Home Rukhsar Shayari HindiRukhsar Shayari in Hindi Images Download रुखसार हिंदी शायरी
Rukhsar Shayari in Hindi Images Download रुखसार हिंदी शायरी

Rukhsar Shayari in Hindi Images Download रुखसार हिंदी शायरी

~Rukhsar Shayari in Hindi, Rukhsar Shayari, ~Rukhsar Hindi Shayari, ~Rukhsar Shayari, Rukhsar whatsapp status, Rukhsar hindi ~Status,font Hindi Shayari on latest Rukhsar, Rukhsar whatsapp best status in hindi, रुखसार हिंदी शायरी, हिंदी शायरी, रुखसार, ~रुखसार स्टेटस, रुखसार व्हाट्स अप ~स्टेटस, रुखसार पर शायरी, रुखसार शायरी, रुखसार पर शेर, रुखसार की शायरी,गालों, गालों पर स्टेटस, ~गालों पर व्हाट्स अप स्टेटस, ~गालों पर शायरी, गालों शायरी, गालों पर शेर, गालों की शायरी,images download.

~उनके रुखसार पर ढलकते हुए आँसू तौबा,

मैं ने शबनम को भी शोलों पे मचलते देखा~~~

****

~नज़र उस हुस्न पर ठहरे तो आखिर किस तरह ठहरे

कभी वो फूल बन जाए तो कभी रुखसार बन जाए~~

***

बड़ी इतराती फिरती थी वो अपने हुस्न-ऐ-रुखसार पर

मायूस बैठी है जबसे देखि है तस्वीर कार्ड-ऐ-आधार पर

***

~समेट लो भूली बिसरी यादें अपनी

~सूखे पेड़ की टहनियों सी बेजान लगती हैं

~चाँद के रुखसार पे खराशें पड़ती है इनसे~
Rukhsar Shayari in Hindi Images Download रुखसार हिंदी शायरी
~क्यूँ पोंछते हो रुखसार से अरक को बार बार ,

~शबनम के क़त्रे से गुलों में और निखार आता है~~~

**

~आँसुओं में डूबा उनका चेहरा है कुछ इस तरह

~गुलों के रुखसार पे ओस ज्यूं बिखरी हुई है

*** Rukhsar Shayari in Hindi

ठहर जाती है हर नजर तेरे रुखसार पर आकर..

सनम तेरे चेहरे में कशिश कुछ ऐसी है..

***

~~गेसू की रंगत से चलकर रुखसार की रंगत पर आई,

~~~रफ़्ता रफ़्ता रिसते रिसते अब रात भी रुखसत पर आई~~~

~~मैं तेरे रुखसार का रंग हूँ…

~~~जितना तुम खुश रहोगे, उतना मैं सवर जाऊँगा~~~

***

~उनके रुखसार पर ढलकते हुए आँसू तौबा

~मैं ने शबनम को भी शोलों पे मचलते देखा

~~~Rukhsar Shayari in Hindi~~~

~तेरे रुखसार पर ढलते ये शाम के किस्से..

~ख़ामोशी में पढ़ा हुआ कोई कलमा हो जैसे~~~~

***

~तुम्हारा रुखसार जैसे कोई किताबी कहानी है

देख कर मन मचल उठे,क्या खूब जवानी है

***

~आओ हुस्न-ए-यार की बातें करें

ज़ुल्फ़ की, रुखसार की बातें करें~~~

*** Rukhsar Shayari in Hindi

~जवानी हुस्न मैखाने लबो रुखसार बिकते हैं

~हया के आईने अब तो सरेबाजार बिकते हैं

~हुज़ूर आरिज़ ओ रुखसार क्या तमाम बदन

मेरी सुनो तो मुजस्सिम गुलाब हो जाये।

***

~नज़र उस हुस्न पर ठहरे तो आखिर किस तरह ठहरे

कभी जो फूल बन जाये कभी रुखसार हो जाये

सीख मुझसे आतिश- फिशां में गुल- फिशां होना

युहीं नही रुखसार पे तजल्ली ओ जलाल आता है

*** Rukhsar Shayari in Hindi

~जिन्दगी सिर्फ मोहब्बत नहीं कुछ और भी है

~जुल्फ-ओ-रुखसार की जन्नत ही नहीं कुछ और भी है~~~~~

ये रुखसार पीले से लगते हैं ना

उदासी की हल्दी है हट जाएगी

तमन्ना की लाली को पकने तो दो

ये पतझड़ की छाँव छंट जाएगी~~~

***

~अब मैं समझा तेरे रुखसार पे तिल का मतलब,

दौलत-ए-हुस्न पे दरबान बैठा रखा है~~~

देखकर तुझे वो मेरे रुखसार पर रुके है___

मुद्दतो बाद नज़ाकत से अश्क़ उतरे है

~~~Rukhsar Shayari in Hindi~~~

~छेड़ती हैं कभी लब को कभी तेरे रुखसार को जालिम

~तुने अपनी जुल्फो को बड़ा सिर पर चड़ा रक्खा है~~~

~तेरे रुखसार पे ना गिरे कोई गम का आँसू..

खुदा तेरी हर दुआ को तेरी तक़दीर बना दे~~~
***

~तुम आगोश-ऐ-तसव्वुर में भी आया न करो…

मेरी आहों से ये रुखसार कुम्हला न जाये कहीं~~~~

***

~हमने उसके लब-ओ-रुखसार को छू कर देखा

हौसले आग को गुलज़ार बना देते हैं ~काबिल_अजमेरी

~~~Rukhsar Shayari in Hindi~

~उसकी ज़ुलफें थीं, लब-ओ-रुखसार थे, और हाथ मेरे,

कट गये रात के लमहे.. यूं ही शरारत करते करते~~~

***

~तुने देखी है वो पेशानी वो रुखसार वो होंठ

ज़िंदगी जिसके तसव्वुर में लुटा दी हमने~~~~

***

~पत्थर दिल ऐसे की रस्म-ए-वफ़ा की खुशबू

न उनसे न उनके लब-ओ-रुखसार से आती है~~~

***

~ज़ुल्फ़े रुखसार पे , मदहोशी का वो आलम जान !!!

~मरमरी बाँहों की वो आरज़ू , याद है मुझे वो रात~~~~

***

~तेरा चेहरा तेरी आँखे तेरे रुखसार का जादू

~मुझे महसूस करके देख मेरे प्यार का जादू~~~

***

~दीदार की ख्वाहिश में हम लिखने लगे ग़ज़ल.

क्या पता रुखसार से परदा हटा दो कब~~~

~Rukhsar Shayari in Hindi~

~तेरे हिसार-ए-रुखसार से निकलें तो सोचें…

~ये शोखी खफा की है या फिर हया की है

***

~रुखसार पर लाली बिखरी हुई यूं हया से शायद मेरे सवाल का जवाब अच्छा है

~तेरे गेसुओ से उलझने को एक उम्र बाकी है शायद मेरे उलझने का ये जाल अच्छाहै

***

~रुखसार पे ज़ुल्फ़ के आलम से रश्क़ करे महताब…

~वाह परीज़ात हुस्न, चर्ख-आलम हुआ बजा इश्क़

***

~~लब-ए-रुखसार की बातें, गुल-ए-गुलनार का मौसम,

हज़ारों ख्वाहिशों जैसा तुम्हारी याद का मौसम~~~

~~~Rukhsar Shayari in Hindi~~~

Leave a Reply

1 thought on “Rukhsar Shayari in Hindi Images Download रुखसार हिंदी शायरी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Show Buttons
Hide Buttons