You are here
Home > Chahat Shayari > Chahat Shayari Chahat Hindi Images Download Facebook

Chahat Shayari Chahat Hindi Images Download Facebook

!Chahat Shayari Chahat Hindi Images Download Facebook,chahat wallpaper download-chahat shayri images-pyar ki tadap shayari-meri chahat shayari-chahat shayri facebook-teri chahat shayari-chahat name image-nafrat shayari image hindi.Chahat Shayari, Chahat Hindi Shayari, Chahat Shayari, Chahat whatsapp status, Chahat hindi Status, Hindi Shayari on Chahat, Chahat whatsapp status in hindi,#चाहत हिंदी शायरी, #हिंदी शायरी, #चाहत, #चाहत स्टेटस, #चाहत व्हाट्स.

~उनकी चाहत में हम कुछ यूँ बँधे है….

~वो साथ भी नही और हम अकेले भी नही~~
***

~कैसी गहराई है तेरी चाहत में , मेरी मोहब्बत में ? न डूबा हूँ अब तक न सतह की कोई उम्मीद नज़र आती है ।

***

~मज़ा आ जाए, गर हो जाए इतना, अबकी बारिश में…

~हमारी चाहत के आँसू, तुम्हारी छत पे जा बरसें~~~~

***

~ढूढने चला था एक शक्श की चाहत

~खुद को भी खो दिया उसकी मोहब्बत मे
Chahat Shayari Chahat Hindi Images Download Facebook
~उतर के देख मेरी चाहत की गहराई मै
सोचना मेरे बारे मै रात की तन्हाई मै
अगर हो जाए मेरी चाहत का एहसास तो
मिलेगा मेरा अक्स तुम्हे अपनी ही परछाई मै
***
~बहुत गुमनाम से है चाहत के रास्ते
तू भी लापता…मैं भी लापता
*** Chahat Shayari~~~~
~सीख जाअो वक्त पर किसी की चाहत की कदर करना कहीं कोई थक ना जाये, तुम्हें एहसास दिलातें दिलाते……

***

तुमसे इश्क की चाहत में सब कुछ सहे जा रहे है

मोहब्बत के अल्फ़ाज समंदर में बहे जा रहे है

***

~मेरी चाहत का एहसास भी ना होगा उसे,

उसकी हर अदा पसन्द आई बेवफाई के सिवा~~~~

***

~हमने तो एक ही शख्स पर चाहत ख़त्म कर दी

अब मोहब्बत किसको कहते है मालुम नही

~~~Chahat Shayari~~~

~मेरे दिल मे तेरी चाहत,बस जाए बन के धड़कन पल भर ना भूल पाऊ,ऐसी तड़प जगा दे।

***

~प्यार है मुझसे तो सारी खुशियाँ समेट लो मेरी, गमों का क्या है,ये चाहत से खुशियों में बदल जायेंगे”

***

~इंसान की चाहत कि उङने को पर मिले,

और परिंदे सोचते है कि रहने को घर मिले…

***

~रिहा कर ख़ूबसूरत दिखने की चाहत से मुझे

~ऐ आईने तू मेरी सादगी को ज़मानत दे दे

*** Chahat Shayari

~अगर तुम समझ पाते मेरी चाहत की इन्तहा
तो हम तुमसे नही तुम हमसे मोहब्बत करते
***
~तेरे गम को अपनी रूह में उतार लूँ.. जिन्दगी तेरी चाहत में सवार लूँ..
मुलाकात हो तुझ से कुछ इस तरह.. तमाम उमर बस इक मुलाकात में गुजार लूँ
~~~Chahat Shayari~~~
~अल्फ़ाज़ो के समंदर में आप ऐसे डूबे फिर निकलने की चाहत न रही,आप याद करने लगे फ़ुर्सत के लमहों को जैसे खवाईशो की चाहत न रही…
***

***
~अगर दुनिया में जीने की चाहत ना होती; तो खुदा ने मोहब्बत बनाई ना होती;
लोग मरने की आरज़ू ना करते; अगर मोहब्बत में बेवाफ़ाई ना होती!
*** Chahat Shayari
मैं कुछ लिखू और तेरा ज़िक्र न हो,
वो तो मेरी चाहत की तौहीन होगी~~~~
***
~अनजाने में तुझसे मुलाकात सी हो गयी दोस्ती करने चले थे
और तुझसे चाहत सी हो गयी
अपने वजूद में तुझे तलाश करते है,
हमे तुमसे मोहब्बत सी हो गयी
***

***
~कई बार ये सोच के दिल मेरा रो देता है… कि तुझे पाने की चाहत में मैंने खुद को भी खो दिया~~~

***
वो छा गये है कोहरे की तरह मेरे चारो तरफ,
न कोई दूसरा दिखता है ना देखने की चाहत है.
*** Chahat Shayari
चाहत के ये कैसे अफ़साने हुए; खुद नज़रों में अपनी बेगाने हुए;
अब दुनिया की नहीं कोई परवाह हमें; इश्क़ में तेरे इस कदर दीवाने हुए।
***
तेरी चाहत तो मुक़द्दर है, मिले न मिले;
राहत ज़रूर मिल जाती है, तुझे अपना सोच कर

~किसी की चाहत मे इतने पागल ना हो, हो सकता हे वो तुम्हारी मंज़िल ना हो, उसकी मुस्कुराहट को मोहब्बत ना समझो, कहीं ये मुस्कुराना उसकी आदत ना हो~

*** Chahat Shayari
~सिलसिला ये चाहत का दोनो तरफ से था, वो मेरी जान चाहती थी और मैं जान से ज्यादा उसे..
***
~तेरी चाहत के सिवा अब ना कोई आरज़ू रही तू रहा, तेरी ख़्वाहिश रही और बस तेरी आशिकी रही~

~चिरागों से अगर अँधेरा दूर होता तो चांदनी की चाहत क्यूँ होती कट सकती अगर ये ज़िन्दगी अकेले, तो साथी की जरूरत ही क्यूँ होती

***

~वादे वफ़ा के और चाहत जिस्म की~~अगर ये मोहब्बत है तो फिर हवस किसे कहते है~~~

*** Chahat Shayari

~हर कोई पाने की ज़िद में हैं, शायद मुझे कोई आज़माने की ज़िद में है। जिसकी चाहत है मुझे बेइंतेहा वो मुझे भूल जाने की ज़िद में है।

***

~हमारे बाद नहीं आएगा तुम्हें चाहत का ऐसा मज़ा ‘फ़राज़’

~तुम लोगों से कहते फ़िरोगे मुझे चाहो उस की तरह~~

*** Chahat Shayari

~तेरी चाहत मे हम जमाना भूल गये, किसी और को हम अपनाना भूल गये, तूम से मोहब्बत हे साारे जहान को बताया, बस एक तूझे ही बताना भूल गये….”

***

~तुम खुद उलझ जाओगे मुझे गम देने की चाहत में,मुझमें हौसला बहुत है मुस्कुराकर निकल जाऊगा.
***
~वो शमा की महफिल ही क्या जिसमें दिल खाक न हो मज़ा तो तब है चाहत का जब दिल तो जले पर राख न हो
***
~~नशा किस चीज को कहते
अगर तुम देखना चाहो,
तो जाकर के कहो उनसे,झुकी पलकें उठा लें वो..!!
अगर चाहत है उल्फत की
बसाना है उन्हें दिल में,
मिलाकरके नज़र कहदो,तुम्हें अपना बना लें वो..!!
***
~~दिल की धड़कन और मेरी सदा हो तुम ..
मेरी पहली और आखिरी वफ़ा हो तुम
…. मेने चाहा है तुम्हे चाहत से बढ़कर क्युकी
मेरी चाहत और चाहत की इन्तेहाँ हो तुम”…
***
अभी नादाँ हु इश्क में, जताऊ कैसे,
प्यार कितना है, तुमसे बताऊ कैसे,
बहुत चाहत है, दिल में तुम्हारे लिये,
तुम ही कहो, तुम्हें अपना बनाऊ कैसे,
~~~~Chahat Shayari~~~
~कुछ तो है कहीं, ये जो थोड़ा प्यार-सा है
नशा है तेरा, चाहत या इक ख़ुमार-सा है…

~मिला करती है मचलकर रोज ही तू मुझसे
रहता बेवक़्त फिर भी तेरा इंतज़ार-सा है..

***

~तुम्हारी पसंद हमारी चाहत बन जाये
तुम्हारी मुस्कुराहट दिल कि राहत बन ज़ाये~~
खुदा खुशियो से इतना खुश कर दे आपको
कि आपको खुश देख़ना हमारी आदत बन जाये~~~

***

~~एक अजनबी से मुझे इतना प्यार क्यों है;
इंकार करने पर चाहत का इकरार क्यों है;
उसे पाना नहीं मेरी तकदीर में शायद;
फिर हर मोड़ पे उसी का इंतज़ार क्यों है~~~

***

~~कुछ उलझे सवालो से डरता हे दिल
जाने क्यों तन्हाई में बिखरता हे दिल
किसी को पाने कि अब कोई चाहत न रही
बस कुछ अपनों को खोने से डरता हे ये दिल~~~

rani kumari
Shayari Hindi Shayari,Best Images New,Hindi Shayari on Love wallpapers, Sad, Funny, Friendship, Bewafai, Dard, GoodMorning, Good Shaiari Night,Good Morning,Pyaar Mohabbat, Judai, Whatsapp Dp,Facebook Status in Hindi,English Font 2018.
https://shayarihindishayari.com

Leave a Reply

Leave a Reply

Top
Show Buttons
Hide Buttons